प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों से हो रही अवैध वसूली

अंबेडकरनगर : प्रधानमंत्री आवास योजना से संबंधित फाइल स्वीकृत कराने के नाम पर गरीब परिवारों से अवैध रकम वसूली की जा रही है।केंद्र सरकार ने जिले के शहरी गरीबों को पक्का मकान मुहैया कराने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री आवास योजना चलाई है, जिसके तहत अंबेडकर नगर जनपद क्षेत्र में अब तक सैकड़ों परिवारों को पक्के आशियाने मुहैया भी हो चुके हैं। जबकि सैकड़ों अन्य परिवार भी उक्त योजना का लाभ हासिल करने की कवायद करने में जुटे हुए हैं। वहीं मौके का फायदा उठाने के उद्देश्य से ऐसे लोग भी सक्रिय चल रहे हैं, जो योजना का लाभ दिलाने की आड़ में आवेदकों से उनकी गाढ़ी कमाई की रकम ऐंठकर अपनी जेब भर रहे हैं। 15000 से 30000 की रकम की हो रही है मांग- सूत्र नगर पंचायत किछौछा अशरफपुर में प्रधानमंत्री आवास योजना बड़े पैमाने पर धांधली की जा रही है। नगर वासियों द्वारा बताया गया कि हर आवास पीछे 15 से तीस हजार रुपए की मांग की जा रही है । सभासद और दलाल के माध्यम से बड़े पैमाने पर वसूली हो रही है । अहम सवाल – योगी सरकार भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए लाख जतन कर रही है लेकिन इन्हें के अधिकारी और कर्मचारी योजनाओं को पलीता लगा रहे हैं। धरातल पर ऐसा कोई विकास नहीं दिख रहा है । मीडिया पड़ताल में नए-नए खुलासे रोज हो रहे हैं । सवाल जिम्मेदार अधिकारी आखिर भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने में निचले स्तर तक अधिकारियों को संरक्षण प्राप्त है। 15 से तीस हजार रुपए की वसूली किसके संरक्षण में हो रही है। नाम ना लिखने की शर्त पर सूत्रों के हवाले खबर नगर पंचायत अशरफपुर किछौछा में सफाई नायक द्वारा सफाई कर्मियों से लिया जाता है ₹500 ड्यूटी लगवाने के नाम पर हर महीने सफाई कर्मचारियों से काट लिया जाता है ₹500 इससे यह पता लगाया जा सकता कि सफाई नायक का वेतन लगभग एक लाख ऊपरी कमाई कुल मिलाकर वेतन सरकारी वेतन और ऊपरी कुल मिलाकर 120000 इससे यह अंदाजा लगाया जा सकता है नगर पंचायत अशरफपुर किछौछा में कितना गोल-माल चल रहा है सफाई नायक सफाई कर्मचारियों के जेब के ऊपर डाल रहा है डाका आखिर इसका जिम्मेदार कौन आखिर कब तक चलता रहेगा नगर पंचायत अशरफपुर किछौछा में खेल।


Facebook Comments Box

Leave a Reply